गेट एग्जाम क्या है ? गेट एग्जाम के फायदे

अगर आपकी रूचि साइंस सब्जेक्ट में है और आपने साइंस सब्जेक्ट लेकर अपनी इंजीनियर और ग्रेजुएशन की डिग्री पास कर ली है और आगे भी आप इसी फील्ड में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं तथा किसी अच्छे कॉलेज या यूनिवर्सिटी से एमटेक या पीएचडी की डिग्री प्राप्त करना चाहते हैं ताकि यह डिग्री लेने के बाद आप अपने सब्जेक्ट के विशेषज्ञ बन सके और साइंस की फील्ड में अपना अच्छा खासा करियर बना सके। इसके लिए जरूरी है कि आपको एक एंट्रेंस एग्जाम पास करना होगा। जिसका नाम है गेट एग्जाम तो चलिए जानते हैं कि गेट एग्जाम क्या है ?

Gate exam kya hai/ गेट एग्जाम के फायदे

 

■ गेट एग्जाम क्या है ?

 
गेट की फुल फॉर्म होती है:- ग्रेजुएट एप्टीट्यूड टेस्ट इन इंजीनियरिंग ( Graduate Aptitude Test For Engineering )
 
यह कंप्यूटर आधारित टेस्ट है जोकि नेशनल लेवल पर आयोजित किया जाता है। इसके द्वारा विद्यार्थी M-tech और PHD लेवल के कोर्सेज में एडमिशन लेते हैं। हर साल इस परीक्षा में लगभग 10 लाख से ज्यादा विद्यार्थी शामिल होते हैं इसमें से केवल 15 से 16% विद्यार्थी ही इस परीक्षा में पास होते हैं। यह एग्जाम साल में एक बार आयोजित किया जाता है।
 
पहले यह परीक्षा सिर्फ भारतीय विद्यार्थियों के लिए ही होती थी। लेकिन अब इस परीक्षा में बांग्लादेश, नेपाल, श्रीलंका जैसे देश के विद्यार्थी भी बैठ सकते हैं।
 

■ यह परीक्षा इन संस्थान द्वारा आयोजित की जाती है:- 

 
• आईआईटी रुड़की 
• आईआईटी दिल्ली
• आईआईटी गुवाहाटी
• आईआईटी कानपुर 
• आईआईटी मद्रास
• आईआईटी बोंबे 
 

■ गेट एग्जाम के फायदे :- 

 
अगर आप गेट एग्जाम को पास कर लेंगे तो आप किसी अच्छे कॉलेज या यूनिवर्सिटी से M-tech यानी मास्टर ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी और Phd कोर्स में एडमिशन लेकर पढ़ाई पूरी कर सकते हैं। 
 
गेट एग्जाम के अंकों के आधार पर आपको प्रसिद्ध कॉलेज मिल जाता है इसके साथ-साथ आपको छात्रवृत्ति (Scholarships) भी मिल जाती है।
 

■ गेट एग्जाम में कौन-कौन से विषयों से प्रश्न पूछे जाते हैं :-

 
   •  जनरल एप्टीट्यूड
   •  इंजीनियरिंग मैथमेटिक्स
   •  विशेष विषय
 
यह एग्जाम 100 अंको का होता है जिसमें सभी सेक्शन में से कुल 65 प्रश्न पूछे जाते हैं।
 
इस एग्जाम में जनरल एप्टीट्यूड में से 15 प्रश्न पूछे जाते हैं। इंजीनियरिंग मैथमेटिक्स और किसी विशेष विषय में से 25-25 प्रश्न पूछे जाते है। यह सारे प्रश्न मल्टीपल चॉइस वाले होते हैं जिसके लिए आपको 3 घंटे का समय दिया जाएगा इसके साथ-साथ एग्जाम में नेगेटिव मार्किंग भी होती है।
 

■ गेट एग्जाम के लिए योग्यता

 
 1. अगर आप 12वीं कक्षा पास करने के बाद इंजीनियरिंग, टेक्नोलॉजी, आर्टिटेक प्रोग्राम डिग्री के फाइनल ईयर में हो तब आप इस एग्जाम के लिए अप्लाई कर सकते हैं।
 
2.  अगर आपने साइंस, मैथमेटिक्स या कंप्यूटर एप्लीकेशन की किसी भी ब्रांच में मास्टर डिग्री लेने वाले फाइनल ईयर के  छात्र हैं तब आप इस एग्जाम के लिए अप्लाई कर सकते हैं।
 

■ गेट एग्जाम के लिए उम्र सीमा

 
उम्र सीमा की बात करें तो गेट एग्जाम से जुड़ी एक बहुत ही खास बात है यह है कि इस एग्जाम के लिए कोई भी उम्र सीमा नहीं रखेगी है। तो आप किसी भी उम्र में यह एग्जाम के लिए आवेदन कर सकते हैं ।
 

■ यह कुछ प्रसिद्ध Streams है जो आप गेट एग्जाम पास करने के बाद कर सकते हैं 

 
• मैकेनिकल इंजीनियरिंग 
• इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन
• सिविल इंजीनियरिंग 
• इंस्ट्रूमेंटेशन इंजीनियर
 

■ गेट एग्जाम कहां होता है और कब होता है

 
यह एग्जाम फरवरी या मार्च के महीने में होता है। वर्ष 2020 में यह एग्जाम आईआईटी दिल्ली द्वारा आयोजित किया जा रहा है।
 

■ एग्जाम को कैसे कैसे पास करें

 

1.  गेट एग्जाम के सिलेबस को देख ले

 
अगर आप कोई भी एग्जाम पास करना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको उस एग्जाम में आने वाले सिलेबस को एक बार जरूर समझ लेना चाहिए। वैसे ही गेट एग्जाम को पास करने के लिए आपको गेट एग्जाम का सिलेबस अच्छे से देख और समझ लेना चाहिए।
 

2.  एग्जाम पैटर्न को समझें

 
सिलेबस समझने के बाद आपको दूसरा काम यह करना है कि आप उस एग्जाम के पैटर्न को अच्छे से समझ लीजिए। इसके लिए आप उस परीक्षा के पिछले साल के प्रश्न पत्र को देख सकते हैं जिससे आपको यह पता चल जाएगा कि वह एग्जाम आखिर किस तरीके से आता है।
 

 3.  गेट एग्जाम की किताबें

 
यह बहुत ही महत्वपूर्ण बात है जब भी आप गेट एग्जाम की तैयारी करें तो आपको विशेष किताबों को पढ़ना चाहिए। यह बहुत जरूरी है कि आप सही किताबों का चयन करें। बाजार में ऐसी बहुत सारी किताबें हैं जो आपको गेट एग्जाम की तैयारी करवाती है।

 
अगर आप किसी परीक्षा की तैयारी करने के लिए अच्छी और सही किताबें नहीं चुनते हैं तो आप कभी भी उस परीक्षा में पास नहीं हो सकते इसलिए आप केवल विशेषज्ञों द्वारा लिखी गई किताबों को ही पढें ।
 
आखरी और सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि आप गेट एग्जाम के पिछले साल में आए हुए प्रश्न पत्र का अध्ययन करें। जितने हो सके आप उन प्रश्न पत्र को हल करें। यह जरूरी है कि किताबों से परीक्षा की तैयारी करने के बाद आप पिछले साल के प्रश्न पत्र को जरूर हल करें
 

Leave a Reply

Your email address will not be published.