मेडिकल लाइन कोर्स लिस्ट / 12th ke baad medical courses in Hindi

अगर आपने अपनी 12वीं कक्षा मेडिकल से पास की है और आगे आप मेडिकल कोर्स सूची के बारे में जानना चाहते हैं तो आज हम आपको ऐसे ही NEET के बिना 12 वीं के बाद मेडिकल कोर्स बारे में बताएंगे जो आप अपनी 12वीं कक्षा पास करने के बाद कर सकते हैं। यह सब ऐसे कोर्स हैं जिनको करने के बाद आप एक अच्छी नौकरी पा सकते हैं या खुद का भी क्लीनिक हो सकते हैं तो चलिए बात करते हैं ।

मेडिकल लाइन कोर्स लिस्ट

मेडिकल लाइन कोर्स लिस्ट

1.  Family Physician

सबसे पहले नंबर पर आता है Family Physician जिसे आप आम भाषा में एक डॉक्टर भी कह सकते हैं। जिसके पास हम बुखार ,खांसी ,सर में दर्द ,पेट में दर्द जैसी चीजों के लिए हर रोज़ चेकअप करवाने जाते हैं। आप खुद अंदाजा लगा सकते हैं कि जब हम Physician के पास जाते हैं तो उनके पास कितनी लंबी लंबी लाइन होती है और हमें हमेशा इनकी जरूरत पड़ती है ।

Physician बनने के लिए सबसे पहले आपको MBBS की डिग्री लेनी होगी इसमें आपको 4 साल की पढ़ाई करनी होती है और उसके बाद आपको 1 साल का इंटर्नशिप (Internship) करना पड़ता है। इसमें पूरे 5 साल का समय लग जाता है।

•  MBBS कोर्स को करने के लिए आपके पास 11th और 12th कक्षा में Physics, Chmistry, Biology यानी कि PCB होना अनिवार्य है।

•  12th कक्षा पास करने के बाद मेडिकल कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए आपको Entrance Exam देना होगा।

Top Medical College se MBBS

AIIMS यानी ” All India Institute of Medical Research ” जैसे सरकारी मेडिकल कॉलेज में से MBBS करने के लिए NEET यानी ” नेशनल एलिजिबिलिटी एंट्रेंस टेस्ट ” का एग्जाम देना पड़ता है।

अगर आप प्राइवेट मेडिकल कॉलेज के साथ तुलना करें तो  सरकारी मेडिकल कॉलेज में फीस बहुत कम होती है ।

हर साल बहुत सारे विद्यार्थी नीट एग्जाम के लिए तैयारी करते हैं लेकिन उसमें से बहुत ही कम बच्चे पास होते हैं तो इसके लिए आपको कड़ी मेहनत करनी होगी।

पाँच साल की MBBS करने के बाद आप एक Family Physician बन जाएंगे इसके बाद आप किसी हॉस्पिटल में भी काम कर सकते हैं या फिर आप खुद का क्लीनिक (clinic) भी खोल सकते हैं।

Family Physician की सैलरी कि बात करें तो आपको पता ही है डॉक्टर की सैलरी कितनी होती है। लगभग लाखों में आपको इसकी सैलरी मिल सकती है और अगर आपने अपना क्लीनिक (clinic) खोल लिया तो उसमें आप बहुत पैसा कमा सकते हैं।

2.  Surgeon

दूसरे नंबर पर आता है Surgeon अगर आपने अपनी 12th कक्षा मेडिकल से पास की है तो surgeon भी बहुत अच्छा कैरियर ऑप्शन है। Surgeon का काम होता है जब हमारी कोई भी अंदरूनी बीमारी हो जाती है तब उसकी जो सर्जरी करता है वह surgeon होता है।

तो surgeon बनने के लिए भी आपको MBBS की पढ़ाई करना जरूरी है और उसके बाद आपको M.S यानी ” Master of Surgery ” भी करनी होती है जोकि 3 साल की होती है । इसी के साथ आपको 1 साल और 6 महीने की ट्रेनिंग भी लेनी होगी।

सर्जन की सैलरी की बात करें तो शुरुआत में यह 50,000 प्रति माह से लेकर 80,000 प्रतिमा तक हो सकती है। समय के साथ जैसे आपका एक्सपीरियंस बढ़ता है आपकी सैलरी भी बढ़ती है।

यह भी पढ़े : बीएससी नर्सिंग के बाद क्या करे | BSC Nursing ke Baad kya kare 

3.  Dentist

डेंटिस्ट आपके दांत और मसूड़ों के संबंधित डॉक्टर को कहा जाता है। पहले डेंटिस्ट की मांग कम थी लेकिन अब हर कोई अपने दांतो को अच्छा और स्वस्थ रखना चाहता है।

डेंटिस्ट बनने के लिए आपको 5 साल का कोर्स करना पड़ता है जिसे हम बीडीएस यानी ” बैचलर ऑफ डेंटल सर्जरी ” कहते हैं । इसमें 4 साल की आपको पढ़ाई और 1 साल का इंटरशिप करना होता है। इसमें बीडीएस के बाद एमडीएस यानी ” मास्टर ऑफ डेंटल सर्जरी ” भी कर सकते हैं।

बीडीएस में अप्लाई करने के लिए आपके पास 12वीं कक्षा में मेडिकल होना जरूरी है। 12वीं कक्षा में कम से कम 50% मार्क्स होने चाहिए तभी आप बीडीएस के लिए योग्य है।

यह कुछ कॉलेज है जहां से आप बीडीएस कर सकते हैं :

•  मौलाना आजाद डेंटल कॉलेज, दिल्ली

•  मणिपाल कॉलेज इन डेंटल साइंस, यूपी मणिपाल

•  रोहतक डेंटल कॉलेज, रोहतक

•  SRM डेंटल कॉलेज, खारा खेरी

•  गुरु नानक देव डेंटल कॉलेज & रिसर्च इंस्टिट्यूट, सुनाम

बीडीएस करने के बाद आप अपना खुद का हॉस्पिटल भी खोल सकते हैं या फिर किसी हॉस्पिटल में काम कर सकते हैं।

4.  Pharmacist

आप फार्मासिस्ट बनने के लिए डी-फार्मा यानी ” डिप्लोमा इन फार्मेसी ” कर सकते हैं जोकि 2 साल का होता है। इसी के साथ आप 4 साल की बी-फार्मेसी यानी ” बैचलर इन फार्मेसी ” भी कर सकते हैं। इसके बाद अगर आप डॉक्टर बनना चाहते हैं तो आप MBBS or BDS or BAMS or BHMS कर सकते हैं।

यह कुछ कॉलेज है जहां से आप फार्मेसी की पढ़ाई कर सकते है :

•  मणिपाल कॉलेज ऑफ फार्मेसी साइंस, मणिपाल

•  युनिवर्सिटी इंस्टिट्यूट ऑफ़ फार्मास्यूटिकल साइंसेस, चंडीगढ़

•  नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ फार्मास्यूटिकल एजुकेशन एंड रिसर्च,  मोहाली

•  जामिया यूनिवर्सिटी, न्यू दिल्ली

•  गुरु जम्बेश्वर विज्ञान और प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, हिसार

5.  Pediatrician Doctor

यह वह डॉक्टर होते हैं जो छोटे बच्चे से लेकर 12 साल के बच्चे तक का इलाज करते हैं हम आम भाषा में इन्हे बच्चों का डॉक्टर भी कहते हैं।

Pediatrician डॉक्टर बनने के लिए सबसे पहले आपको MBBS पूरी करनी होगी इसके बाद आपको M.D. in Pediatrics करनी होगी। इसके बाद आप किसी हॉस्पिटल में प्रैक्टिस करके Pediatrician डॉक्टर बन सकते हैं।

6.  Veterinarian

वेटरिनरी डॉक्टर्स को वेट ( VAT ) भी कहते हैं। यह डॉक्टर जानवरों के डॉक्टर होते हैं और यह जानवरों का इलाज करते हैं। अगर आपको इसमें रुचि है और आपको लगता है कि आपको जानवरों का डॉक्टर बनना चाहिए तब आप यह कोर्स कर सकते हैं।

12 वीं के बाद पशु चिकित्सा डिप्लोमा कोर्स करने के लिए आपको  ” बैचलर ऑफ वेटरनरी ” यानी BVSC करनी होती है। इसको करने के लिए आपको 5 साल का समय लग जाएगा।

इस कोर्स को करने के लिए आपको एमबीबीएस नहीं करनी होती आप बिना MBBS के ही इस कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं। यह कुछ कॉलेज है :

•  गुरु अंगद देव पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान विश्वविद्यालय, लुधियाना

•  वेटरनरी कॉलेज एंड रिसर्च इंस्टिट्यूट, चेन्नई

•  राजस्थान पशु चिकित्सा और पशु विज्ञान विश्वविद्यालय, बीकानेर

•  राजीव गांधी इंस्टीट्यूट ऑफ वेटरनरी एजुकेशन एंड रिसर्च, पांडुचेरी

यह भी पढ़े : MBBS ke Baad Kya kare in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *