Bcom ke baad kya kare?|बीकॉम के बाद क्या करें | Courses after bcom in hindi

अगर आप भी B.com करने के बाद उच्च शिक्षा के लिए जाना चाहते हैं तब आप के लिए यहां पर काफी विकल्प उपलब्ध रहते हैं। आज हम बात करेंगे कि बीकॉम के बाद क्या करें, साथ ही यह भी जानेंगे कि बीकॉम के बाद वह कौन से कोर्स है जिनको करने के बाद आप देश और विदेश में एक अच्छी खासी नौकरी पा सकते हैं। तो चलिए बात शुरू करते है courses after Bcom

1. B.com + MBA

अगर आपकी रुचि मार्केटिंग में है जैसे:  फाइनेंस मार्केटिंग, इंटरनेशनल मार्केटिंग या फिर आप किसी बड़ी मल्टीनेशनल कंपनी ( MNC ) में काम करना चाहते हैं। तब आप B.com करने के बाद एमबीए (MBA) कर सकते हैं। एमबीए यानी मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन यह एक मास्टर लेवल का कोर्स होता है। एमबीए कोर्स 2 साल का होता है।

आप एमबीए बहुत सारी फील्ड में कर सकते हैं जैसे कि : फाइनेंस, बैंकिंग, ह्यूमन रिसोर्स (HR), फॉरेन मार्केटिंग,  आईटी (IT)। इन फील्ड में से एमबीए करने के बाद आपको  मल्टीनेशनल कंपनी में काम करने का मौका मिल सकता है।

यह भी पढें: MBA क्या है और IIM में MBA कैसे करें 

Bcom ke baad kya kare?|बीकॉम के बाद क्या करें | Courses after bcom in hindi

    Top MBA Colleges in India

अगर आपकी रूचि बीकॉम करने के बाद एमबीए करने की है। तब आपको एमबीए अच्छे कॉलेज से करनी चाहिए। एक प्रसिद्ध और बड़े कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए आपको कैट (CAT) एग्जाम पास करना होगा। अगर आपने अपना मन एमबीए करने का बना लिया है तो आप कैट (CAT) एग्जाम पास करके ही एक अच्छे और प्रसिद्ध कॉलेज से एमबीए करें। जैसे :

▪︎  आईआईएम अहमदाबाद

▪︎  आईआईएम बैंगलोर

▪︎  इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस

▪︎  IIFT  दिल्ली

▪︎  Bits Pilani

2.  Stock Broking

ज्यादातर बच्चे स्टॉक ब्रोकिंग के बारे में नहीं जानते इसलिए वह इतना अच्छा करियर ऑप्शन गवा बैठते हैं। आपने एक शब्द सुना होगा ‘स्टॉक मार्केटिंग’। तो ‘स्टॉक ब्रोकिंग’ स्टॉक मार्केटिंग का ही एक शब्द है। यह इन्वेस्टर और बैंकिंग का 1 साल का डिप्लोमा कोर्स होता है। अगर आपने अपनी ग्रेजुएशन पूरी कर रखी है तब आप इस कोर्स  को करने के लिए योग्य हैं।

Stock Broking फीस–  10,000
Stock Broking सैलरी- 2.0 lakhs

इस कोर्स के दौरान 2 पेपर होते हैं जिसको पास करने के बाद आप एक इन्वेस्टर बन जाते हैं। इनका मुख्य काम होता है ‘शेयर एक्सचेंज’। इसमें आप लोगों को बताते हैं कि शेयर कैसे खरीदना है, शेयर कैसे बेचना है।

Also Read : What is BCA Course and What to do after BCA ?

3.  LLB

एलएलबी कानून की पढ़ाई होती है जो आप ग्रेजुएशन के बाद कर सकते हैं। यह 3 साल का कोर्स होता है जब आप इसे ग्रेजुएशन के बाद करते हैं। आप llb तीन स्ट्रीम से कर सकते हैं: क्रिमिनल, डिफेंस और टैक्स।

एलएलबी 3 साल का कोर्स होता है जो आप B.com करने के बाद एंट्रेंस एग्जाम देकर किसी अच्छे और प्रसिद्ध कॉलेज से कर सकते हैं। इसको करने के बाद आपके पास दो विकल्प होते हैं यहां तो आप कहीं जॉब कर सकते हैं या फिर अपना खुद का ऑफिस भी खो सकते हैं। इसके साथ-साथ आप बैंक में ऐ.सो (SO) यानी स्पेशलाइजेशन ऑफिसर की पोस्ट पर भी काम कर सकते हैं.।

4.  M.com

एमकॉम यानी मास्टर ऑफ कॉमर्स। यह एक मास्टर स्तर का प्रोग्राम कोर्स है। जो आप B.com करने के बाद कर सकते हैं। एमकॉम आप दो तरह से कर सकते हैं एक अकाउंट्स और दूसरा बैंकिंग। एमकॉम कोर्स 2 साल का होता है। अगर आप कॉमर्स से टीचर बनना चाहते हैं तब आप एमकॉम कोर्स के लिए जा सकते हैं।

यह भी पढ़ें : Bachelor of Commerce in Financial Markets क्या है ? 

 

5.  Certified Public Accountant

यह कोर्स 1 साल का होता है। इसको करने के बाद आप चीफ फाइनेंशियल ऑफिसर बन जाते हैं और चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर बन जाते हैं। यह कोर्स उच्च स्तर का अकाउंटेंट कोर्स कहलाता है। इसमें सैलरी भी दूसरे कोर्सों के मुकाबले दुगनी मिलती है। लेकिन यह तभी होगा जब आप यह कोर्स किसी प्रसिद्ध कॉलेज से करोगे।

6.  Charted Financial Anaylist (CFA)

चार्टर्ड फाइनेंशियल एनालिस्ट का कोर्स बहुत ही चर्चित कोर्स है। यह कोर्स 2 साल का होता है। इस कोर्स को करने के बाद आप फाइनेंशियल एनालिस्ट, सप्लाई चैन एनालिसिस, फाइनेंस मैनेजर के ऑडिटर बन जाते हैं। यह कोर्स करने के लिए कुछ मुख्य और प्रसिद्ध कॉलेज हैं जो मुंबई दिल्ली और चेन्नई में स्थित है। इसमें सैलरी 30 लाख  से 10 लाख तक सलाना मिल सकती है।

bcom ke baad kya kare: यह कुछ ऊपर बताए हुए कोर्स है जो आप bcom करने के बाद कर सकते हैं। इन कोर्स को करने के बाद आप आसानी से किसी अच्छी कंपनी में नौकरी पा सकते हैं।

लेकिन जो ध्यान रखने वाली बात है वह कि आप जब कोई भी कोर्स करें तो वह एक अच्छी यूनिवर्सिटी या कॉलेज से करें यानी आप उस यूनिवर्सिटी से आप अपना कोर्स कंप्लीट करें जिसको मान्यता प्राप्त है। क्योंकि ऐसे में अगर आप ऐसी यूनिवर्सिटी या कॉलेज से अपना कोर्स कर लेते है जिसकी कोई भी प्रतिष्ठिता नहीं है तो आपको कंपनी में नौकरी मिलने में मुश्किल आ सकती है।

25 Comments

  1. 4. M.com

    एमकॉम यानी मास्टर ऑफ कॉमर्स यह एक मास्टर स्तर का प्रोग्राम कोर्स है। जो आप ""M.com👍🏻👍🏻 ""करने के बाद कर सकते हैं।

    Yaha par aapne b.com likhana tha or aap ne m.com likh diya

    Or b.com ke baad or bhi course hai jise ki
    C.A , C.S

    ye bhi hai or aapne ishka jikr nahi kiya hai

Leave a Reply

Your email address will not be published.