बेसिक कंप्यूटर कोर्स इन हिंदी || basic Computer course in after 10th and 12th

क्या आप भी सीखना चाहते हो बेसिक कंप्यूटर कोर्स इन हिंदी और आगे जाकर बनाना चाहते हैं कंप्यूटर के फील्ड में अपना करियर या फिर आप बनाना चाहते कंप्यूटर एप्लीकेशन ,सॉफ्टवेयर या वेब डिजाइन करना चाहते हैं यहां फिर सीखना चाहते हैं  वेब डिजाइनिंग ,हैकिंग या फिर आप सीखना चाहते हैं कंप्यूटर नेटवर्किंग। तो ऐसे में अगर आपको यह नहीं पता कि इसमें से कौन सा कोर्स करना ज्यादा बेहतर रहता है तो आज हम आपको बताएंगे कि अगर आप दसवीं की पढ़ाई कर रहे हो या फिर बारवीं कक्षा में अपनी पढ़ाई कर रहे हैं या पढाई के  साथ अगर आप कोई कंप्यूटर कोर्स सीखना चाहते हैं तो वह कौन सा सीखे और अगर आपने दसवीं कक्षा पास कर ली है और आपको अगर कंप्यूटर फील्ड में रुचि है और आप अपना करियर कंप्यूटर फील्ड में बनाना चाहते हो तो ऐसे में आपको कौन से कोर्स करने चाहिए जिसकी भविष्य में बहुत ज्यादा मांग है। तो आज हम आपको बताएंगे कि अगर आप 10th कर रहे हो या बारहवीं में पढाई कर रहे हो या फिर अगर अपने बारहवीं पास कर ली है तो आप कौन से बेसिक कंप्यूटर कोर्स इन हिंदी कर सकते हैं

तो चलिए दोस्तों सबसे पहले हम यह जानते हैं कि वह कौन से कंप्यूटर कोर्स है जो आप दसवीं कक्षा पास करने के बाद कर सकते हैं :

1.   बेसिक कंप्यूटर कोर्स इन हिंदी [ Computer Basic Course in hindi ]

यह कोर्स उन विद्यार्थियों के लिए है जो अभी 10th कक्षा में है या फिर 10 कक्षा पास कर चुके हैं या फिर 10th कक्षा के नीचे हैं । मतलब वो विद्यार्थी जिन्हें कंप्यूटर का सामान्य ज्ञान भी नहीं है। जैसे कंप्यूटर क्या है ,कंप्यूटर कैसे काम करता है ,कंप्यूटर में जो छोटी मोटी दिक्कत होती है उसे कैसे सही करते हैं ,कंप्यूटर में माइक्रोसॉफ्ट पावर पॉइंट , एक्सेल क्या होता है ,इंटरनेट क्या होता है ,ईमेल क्या होता है  और इसे कैसे चलाते हैं। मतलब कि कंप्यूटर के बारे में थोड़ा बहुत भी नहीं पता तो उन्हें बेसिक कंप्यूटर कोर्स इन हिंदी करने की बहुत जरूरी है।
बेसिक कंप्यूटर कोर्स इन हिंदी में आपको सिखाया जाता है कंप्यूटर कैसे चालू करते हैं ,कंप्यूटर नेटवर्किंग क्या है ,इंटरनेट नेटवर्किंग क्या है आदि। अगर आप यह कोर्स करना चाहते हैं तो यह कोर्स लगभग 3 महीने से 6 महीने का हो सकता है। तो यह कोर्स करने के बाद आपको कंप्यूटर के बारे में जो मूलभूत बातें हैं वह पता होगी और अगर आपको यह पहले से ही पता है तो आपको यह कोर्स करने की कोई जरूरत नहीं है।

2.   कंप्यूटर प्रोग्राम सर्टिफिकेशन कोर्स [ Computer Program Certification Course ]

जो दूसरा कोर्स आप कर सकते हैं वह कंप्यूटर प्रोग्राम सर्टिफिकेशन कोर्स। यह एक सर्टिफिकेशन कोर्स है यानी इसको करने के बाद आपको एक सर्टिफिकेट यानी प्रमाणीकरण दिया जाएगा। अगर आप भविष्य में कंप्यूटर की फील्ड में जाना चाहते हैं और प्रोग्राम या एप्लीकेशन बनाना चाहते हैं, हैकिंग सीखना चाहते हैं और इसके साथ अगर आप भविष्य में java ,c ,c++ जैसी कंप्यूटर लैंग्वेज को ओर अच्छे से सीखना चाहते हैं। तो यह कोर्स आपके लिए है ।

इस कोर्स में आप कंप्यूटर लैंग्वेज जैसे c, c++, java, python लैंग्वेज को सीख सकते हैं जो आगे चलकर आपको कंप्यूटर प्रोग्राम बनाने मे और चलाने में काम आएगी। अगर आप यह कोर्स करना चाहते हैं तो आप अपने शहर में किसी प्राइवेट इंस्टिट्यूट या फिर सरकारी इंस्टिट्यूट में जाकर इस कोर्स को सकते हैं। यह कोर्स 3 महीने से 4 महीने या ज्यादा से ज्यादा एक साल का होता है। जो आप बड़े ही आराम से कर सकते हैं। इस कोर्स को करने के बाद आप c, c++, java, python कंप्यूटर लैंग्वेज को अच्छे से सीख जाते हैं ,जो आपको आगे कंप्यूटर डिप्लोमा करने में बहुत सहायक होगी।

3.   डिप्लोमा इन कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग [ Diploma in Computer Science and Engineering ]

यह कोर्स आप 12वीं कक्षा पास करने के बाद भी कर सकते हैं और आप दसवीं कक्षा पास करने के बाद भी सीधी इस कोर्स को कर सकते हैं। यह कोर्स उन विद्यार्थियों के लिए बनाया गया है जो अपनी दसवीं कक्षा पास करने के बाद सीधे कंप्यूटर फील्ड में आना चाहते हैं और उन्हें कंप्यूटर फील्ड में बहुत ज्यादा रुचि है। यहाँ आपको सिखाया जाता है :

>फंडामेंटल कंप्यूटर
>प्रोग्रामिंग लैंग्वेज
>वैब प्रोग्रामिंग लैंग्वेज
>सॉफ्टवेयर  डेवलपमेंट

यह कोर्स 10वीं के बाद सीधा करने का यह फायदा है कि आपको यहां पर  12वीं की पढ़ाई नहीं करनी पड़ती और आप सीधा ही कंप्यूटर की फील्ड में अपना करियर बना सकते हैं। तो आप यह कंप्यूटर कोर्स किसी भी सरकारी  कॉलेज या फिर प्राइवेट कॉलेज से कर सकते हैं। और किसी इंस्टिट्यूट से कर सकते हैं लेकिन ध्यान रखे कि वह मान्यता प्राप्त हो। यह कोर्स पूरे 3 साल का होता है और जब आप यह पूरा कोर्स कंप्लीट कर लेते है तो आप इसकी डिग्री के लिए भी अप्लाई कर सकते हैं। इस कोर्स को करने के बाद आप इसके डिग्री कोर्स में एडमिशन ले कर डिग्री कोर्स भी पूरा कर सकते हैं इसे करने के बाद आपको किसी भी आई.टी कंपनी या फिर कंप्यूटर फील्ड कंपनी में नौकरी  आसानी से मिल जाएगी।

तो अब चलिए बात करते हैं कि ऐसे कौन से कंप्यूटर कोर्स  हैं जो आप दसवीं कक्षा पास करने के बाद कर सकते हैं। यह कोर्स उन लोगों के लिए है जिन्हें कंप्यूटर का सामान्य ज्ञान है। अगर आप कंप्यूटर की फील्ड में करियर बनाना चाहते हैं तो 12वीं के बाद यह एक कंप्यूटर कोर्स है जो आप कर सकते हैं ,जिसका नाम है डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन [ Diploma in Computer Application ]

1.   डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन [ Diploma in Computer Application ]

यह कोर्स 6 महीने से लेकर 1 साल तक का हो सकता है। यह एक शॉर्ट टर्म कंप्यूटर कोर्स है। इस कोर्स को करने के बाद आपको कंप्यूटर अच्छे से चलाना आ जाएगा। जैसे कि कंप्यूटर में विंडो कैसे डालनी है ,माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस को ओर अच्छे तरीके से कैसे चला सकते है। तो आप इस कंप्यूटर कोर्स को किसी प्राइवेट इंस्टिट्यूट में जाकर कर सकते है। जिसका नाम है डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन [ Diploma in Computer Application ]। यह कोर्स करने के बाद आपको DCA यानी  डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन [ Diploma in Computer Application ] का सर्टिफिकेट मिल जाता है। जिसको दिखाकर आप किसी कंपनी में छोटे-मोटे पोस्ट पर काम कर सकते हैं।

2.    एंड्राइड एप्लीकेशन डेवलपमेंट [ Android Application development ]

यह कोर्स उन लोगों के लिए जो घर बैठे किसी एंड्राइड एप्लीकेशन को बनाना चाहते हैं। इस कोर्स  में आपको सिखाया जाता है कि एंड्राइड एप्लीकेशन कैसे बनाएं और कुछ कंप्यूटर प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सिखाई जाती है। इस कोर्स  को करने के बाद आपको एक सर्टिफिकेट दे दिया जाएगा उसको दिखाकर आप किसी कंपनी में एंड्राइड एप्लीकेशन डेवलपर के पद पर नौकरी भी पा सकते हैं और आप घर बैठे भी कोई एंड्राइड एप्लीकेशन बना सकते हैं।

3.   एथिकल हैकिंग कोर्स [ Ethically Hacking Course ]

यह कोर्स भी सर्टिफिकेशन कोर्स है यानी इसको करने के बाद आपको एक सर्टिफिकेट दिया जाएगा यह कोर्स उन लोगों के लिए बनाया गया है जिन विद्यार्थियों को हैकिंग में इंटरेस्ट है या आगे जाकर अपना हैकिंग में करियर बनाना चाहते हैं। इस कोर्स को आप 12वीं कक्षा पास करने की बाद कर सकते हैं। जहां पर आपको हैकिंग के बारे में कुछ मूलभूत बातें सिखाई जाती है। तो इस कोर्स को आप किसी भी प्राइवेट इंस्टिट्यूट से कर सकते हैं।

तो चलिए अब बात करते हैं कि कंप्यूटर डिग्री कोर्स के बारे में कि आप कौन कौन से कंप्यूटर डिग्री कोर्स कर सकते हैं। वैसे तो आपको बहुत सारे कंप्यूटर डिग्री कोर्स मिल जाएंगे जो आप 12वीं कक्षा की बाद कर सकते हैं। लेकिन हम आपको आज दो ऐसे कंप्यूटर डिग्री कोर्स के बारे में बताएंगे जो आपके लिए अच्छा साबित हो सकते हैं:

बी.टेक इन साइंस एंड इंजीनियरिंग [
Btech in Computer science and Engineering ]

बीटेक इन कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग भी एक बहुत ही पॉपुलर कोर्स है इसको करने के बाद आपको आसानी में किसी भी कंपनी में नौकरी मिल सकती है। इसमें आपको सिखाया जाता कि सॉफ्टवेयर कैसे बनता है, वेब डिजाइनिंग कैसे होती है और अगर आप यह कोर्स कर लेते हैं तो आपको यह सब चीजें आ जाती है। जिसे आप एक अच्छी वेबसाइट या एक अच्छा सॉफ्टवेयर बना सकते हैं और इसके साथ-साथ आपको इसमें कुछ कंप्यूटर लैंग्वेज  सिखाई जाती है जैसे c++, c, होगी तो यह सीखने के बाद एक आप एक परफेक्ट कंप्यूटर इंजीनियर बन जाएँगे। यह कोर्स  करने के बाद अगर आप हैकिंग में अपना करियर बनाना चाहते हो तो उसमें भी यह कोर्स आपको बहुत ही ज्यादा सहायक रहेगा।

यह कोर्स एक इंजीनियरिंग डिग्री कोर्स है यानी इसको करने के बाद आप एक इंजीनियर बन जाएँगे। हालांकि अगर आप यह कोर्स किसी अच्छे काॅलेज से करते है तो आपको काफी खर्चा आ जाएगा ,लेकिन इसको करने के बाद आपको नौकरी भी आसानी से मिल जाएगी। यह कोर्स करने के लिए यह जरूरी है कि आप की 12वीं कक्षा साइंस स्ट्रीम से पास होनी चाहिए यानी आपके पास गणित होना जरूरी है। इस कोर्स को आप किसी प्राइवेट या सरकारी काॅलेज से कर सकते है।

2.   बैचलर ऑफ कंप्यूटर एप्लीकेशन [ Belcher of Computer Application ]

यह कोर्स बिल्कुल ही बी.टेक इन साइंस एंड इंजीनियरिंग जैसा है यानी इसमें भी आपको कई सारी कंप्यूटर प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सिखाई जाती है। इसमें आपको सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग , वेब डिजाइनिंग , लाइनेक्स आदि सिखाया जाता है। और सबसे अच्छी बात यह है कि इसको कोई भी कर सकता है चाहे उसने अपनी 12वीं कक्षा आर्ट्स स्ट्रीम से की हुई चाहे साइंस स्ट्रीम से। तो आप इस कोर्स को किसी भी प्राइवेट कॉलेज या सरकारी कॉलेज से कर सकते हैं। लेकिन अगर आपको किसी सरकारी कॉलेज से बैचलर ऑफ कंप्यूटर एप्लीकेशन करना है तो आपको इसके लिए एंट्रेंस एग्जाम देना होगा। इसको करने के बाद आपको किसी अच्छी आईटी कंपनी में नौकरी मिल जाती है और आपकी सैलरी भी अच्छी खासी लग जाती है।

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.